दक्षिण सूडान के उपराष्ट्रपति बने काउंसिल फॉर सस्टेनेबल पीस एंड डेवलपमेंट के संरक्षक

दक्षिण सूडान के उपराष्ट्रपति प्रो. जनरल जेम्स वानी इग्गा , (पीएचडी) काउंसिल फॉर सस्टेनेबल पीस एंड डेवलपमेंट के संरक्षक बने | दक्षिण सूडान के समग्र विकास और सतत शांति और विकास के संयुक्त राष्ट्र के 2030 लक्ष्यों के अनुरूप, दक्षिण सूडान के विकास के लिए काउंसिल फॉर सस्टेनेबल पीस एंड डेवलपमेंट, जयपुर को परामर्शदाता नियुक्त किया है।  यूनाइटेड नेशन सस्टेनेबल डेवलपमेंट एजेंडा 2030 के कार्यक्रमों को प्रचार एवं प्रसारित करने एवं विश्व में सस्टेनेबल पीस एंड डेवलपमेंट की स्थापना हेतु गठित  अंतरराष्ट्रीय संगठन काउंसिल फॉर सस्टेनेबल पीस एंड डेवलपमेंट के उत्कृष्ट कार्यों की सराहना करते हुए काउंसिल को बधाई संदेश भेजा है, इस संदेश में काउंसिल द्वारा किए गए अफ्रीका यूनियन एजेंडा 2063 के द्वारा किए गए कार्यों की भी सराहना की गई|

H.E Pro .Gen. JamesWani इगगा, उपराष्ट्रपति, दक्षिण सूडान ने विकास मिशन के सफल कार्यान्वयन के लिए परिषद के सदस्यों को अपनी शुभकामनाएं दीं। काउंसिल फॉर सस्टेनेबल पीस एंड डेवलपमेंट में अंतर्राष्ट्रीय नीति निर्धारण, आईसीटी कार्यान्वयन, विज्ञान और प्रौद्योगिकी में विशेषज्ञता है। दक्षिण सूडान गणराज्य ने सामाजिक-आर्थिक विकास के लिए नीति तैयार करने के लिए परिषद को अधिकार दिया है और स्थायी शांति और विकास के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए सभी अनिवार्य आवश्यकता प्रदान करने का भी वादा किया है।
काउंसिल द्वारा संचालित कार्यक्रमों द्वारा किस प्रकार साउथ सूडान की उन्नति की जाए इसके लिए गठित कार्यकारिणी में काउंसिल को विशेष आमंत्रण दिया गया है तथा उसे अंतरराष्ट्रीय  कंसलटेंट नियुक्त किया गया है| काउंसिल द्वारा किए जा रहे कार्यों की दक्षता जिनमें अंतरराष्ट्रीय पॉलिसी बनाना, सूचना प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल द्वारा किए गए कार्यों को उच्च स्तर तक पहुंचाना, साइंस एवं तकनीक के क्षेत्र में विशेषज्ञता तथा सामाजिक एवं आर्थिक विकास सुमुखी कार्यक्रमों के लिए साउथ सूडान सरकार द्वारा सर्वांगीण विकास के लिए चलाए जा रहे कार्यक्रमों में काउंसिल को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर साउथ सूडान की पहचान स्थापित करने के लिए विशेष आमंत्रित कंसलटेंट के रूप में नियुक्त किया गया है| उप राष्ट्रपति द्वारा काउंसिल को साउथ सूडान के सर्वांगीण विकास के लिए यूनाइटेड नेशन अफ्रीकन यूनियन अफ्रीकन डेवलपमेंट बैंक वर्ल्ड बैंक इकोनामिक फोरम इत्यादि द्वारा चलाए जा रहे कार्यक्रमों के साथ मिलकर साउथ सूडान के लिए विकास मुखी कार्यक्रमों की श्रंखला तैयार करने की जिम्मेदारी दी गई है| उपराष्ट्रपति, ने काउंसिल द्वारा चलाए जा रहे अंतरराष्ट्रीय स्तर के विकास मुखी कार्यक्रमों की सराहना करते हुए विश्वास जताया है कि काउंसिल साउथ सूडान को भी सन 2030 तक ईस्ट अफ्रीका में विकासशील देशों की गिनती में स्थापित करने में पूर्ण योगदान देगा, यह जानकारी काउंसिल के निदेशक श्री आशीष चंद्र स्वामी द्वारा दी गई है|
काउंसिल फॉर सस्टेनेबल पीस एंड डेवलपमेंट जयपुर में , मिनिस्ट्री ऑफ कॉर्पोरेट अफेयर्स द्वारा अधिकृत संस्था है जो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर यूनाइटेड नेशंस सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स के कार्यक्रमों के प्रचार प्रसार एवं विकास के कार्यक्रम का संचालन करती है, काउंसिल द्वारा समय-समय पर अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठीओं एवं अन्य कार्यक्रम का संचालन किया जाता है. काउंसिल की स्थापना विश्व में सस्टेनेबल पीस एंड डेवलपमेंट को स्थापित करने के मुख्य उद्देश्य से की गई है. काउंसिल के मुख्य कार्य यूनाइटेड नेशंस सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल एजेंडा 2030 के द्वारा चलाए जा रहे कार्यक्रम को प्रसार एवं प्रसारित कर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शांति के संदेश को बढ़ाना है| साउथ सूडान के उप राष्ट्रपति द्वारा काउंसिल को साउथ सूडान के सर्वांगीण विकास के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्थापित मानकों के द्वारा एक रिपोर्ट तैयार कर प्रस्तुत करने का आग्रह किया है | इस उद्देश्य के लिए काउंसिल अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्थापित बहुराष्ट्रीय कंपनियों एवं भारतीय कंपनियों के उदयीमान उद्यमियों के लिए एवं भारत सरकार द्वारा चलाए जा रहे स्टार्टअप कार्यक्रमों एवं नव उद्यमियों का आवाहन करती है कि वह काउंसिल के साथ जुड़कर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान कायम करने के सुनहरे अवसर का लाभ उठाएं| साउथ सूडान के उप राष्ट्रपति के आग्रह पर काउंसिल द्वारा एक अंतर्राष्ट्रीय निवेशक पैनल का गठन किया जा रहा है जिसमें विभिन्न क्षेत्रों की उदयीमान कंपनियों का को जोड़कर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्थापित करने के उद्देश्य से साउथ सूडान में विकास कार्यक्रमों को बढ़ा कर भारतीय कंपनियों की पहचान स्थापित करना चाहते हैं इस कार्यक्रम द्वारा काउंसिल अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय उद्यमियों की पहचान और मजबूत और स्थापित कर भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं जिसमें भारत को डेवलप्ड नेशन का दर्जा दिलवाने में एक कदम और सहयोग करेगा 
काउंसिल के महानिदेशक प्रो. रिपु रंजन सिन्हा, निर्देशक आशीष चंद्रा स्वामी और परिषद के सदस्यों का मानना ​​है कि वर्तमान परिदृश्य में दक्षिण सूडान गणराज्य पूर्वी अफ्रीकी देशों के बीच सबसे विकसित राष्ट्र बनने की ओर अग्रसर है और साथ ही उभरते हुए बाजार के रुझान के कारण 2030 तक निवेश के लिए वैश्विक समुदाय में एक प्रमुख राष्ट्र है। आईसीटी, विज्ञान और प्रौद्योगिकी के लिए कोलाहल। परिषद ने इस विशिष्ट सम्मान और इस महान आंदोलन के अद्वितीय भाग के लिए आभार व्यक्त किया |
Description: C:\Users\VIJAYTA\Documents\Award of Excellence\appreciation.jpg

काउंसिल के महानिदेशक प्रो. रिपु रंजन सिन्हा, निर्देशक आशीष चंद्रा स्वामी उपराष्ट्रपति का पत्र प्राप्त करते हुए

VICE PRESIDENT BECOMES PATRON of Council for Sustainable Peace and Development
 
 
South Sudan Vice President, Pro. Gen James Wani Igga, Appreciating the work of the Council for Sustainable Peace and Development for the promotion and dissemination of the United Nations Sustainable Development Agenda 2030 program. Gen. Wani Igga, (PhD) accepted Invitation Council as patron. Vice President, Appreciating the work done by the Council in his congratulatory message to the Council, he is appreciating the work of the United Nations working in his country as per the Agenda 2063 Work was also appreciated. The Council has been given special invitation as a Consultant of Development for the Holistic Development of South Sudan 2030. The efficiency of the work being done by the Council, including the creation of international policy, Design and Development of ICT Product and Services, Advancement of Science and Technology. ADCO News, Accreditation and Professional Excellence. to bring the work done by Various Stakeholder and use of information technology to a higher level, expertise in science and technology and social and economic development for the well-rounded programs, South Sudanese Government has Appointed Council as Development Consultants for the Holistic Development of South Sudan. He also Authorized Council to Attract investors and Stakeholder including African Development Bank, World Economic bank and others. The Vice President has been given the responsibility of developing a series of development programs for South Sudan in collaboration with the programs run by the United Nations, African Union African Development Bank, the World Bank Economic Forum, for the all-round development of South Sudan. The Vice President appreciated the international level development programs being run by the Council and expressed confidence that the Council will also contribute to the establishment of South Sudan in the list of Developed countries in East Africa by 2030, this information will be given to the Council Director, Council for Sustainable Peace and Development in Jaipur. Council for Sustainable Peace and Development is an organization authorized by the Ministry of Corporate Affairs, which operates internationally on the promotion and development programs in Line with United Nations Sustainable Development 2030. from time to time Council Organizing  international seminars, Summit, Consular Meeting , Professional Excellence Programmes and Other Awareness Programme.  The main objective of establishing Sustainable Peace and Development to spread the message run by the United Nations Civil Development Round Agenda 2030 and message of peace internationally.
The Vice President of South Sudan has urged the council to prepare and submit a report by internationally established standards for the all-round development of the countries. For this purpose, the Council invites start-up programs and innovative entrepreneurs run by international organizations for the entrepreneurs of Indian multinational companies and Indian companies and by joining the Council to make their identities at the international level. Take advantage of the golden opportunity. A panel is being constituted by the council in which the purpose of establishing the identity of Indian companies by increasing the development programs in South Sudan for the purpose of establishing international companies by adding up the existing companies of different areas. Indian Government's ambitious scheme to identify and strengthen Indian entrepreneurs Classes which will move and cooperation in getting Developed Nation status to India.

Council for Sustainable peace and development has expertise in International Policy framing, ICT implementation ,Science & Technology. The Republic of South Sudan has entitled the Council to frame the policy for Socio -economic development and also promised to provide all mandate requirement for achieving the goals of sustainable peace and development.

The Director General Ripu Ranjan Sinha, Director Ashish Chandra Swami and members of Council are believing that In present scenario Republic of South Sudan most developed nation among East African Countries and also   one of the the prominent nation in the global community for investment by 2030 because of emerging market trends and clamour for ICT , science and technology. The Council expressed its gratitude for this distinctive honor and unique part of this great movement

 
Description: C:\Users\VIJAYTA\Documents\Award of Excellence\appreciation.jpg

Council for Sustainable Peace and Development Director General Prof. Ripu Ranjan Sinha, Director Ashish Chandra Swami receiving letter from office of Vice President South Sudan

Leave a Comment